Old Blog Post ko Update Kaise Kare

क्या आप एक ब्लॉगर है और लंबे समय से ब्लॉगिंग कर रहे हैं? अगर हाँँ तो यह पोस्ट आपके लिए है। इस पोस्ट में हम जानेंगे कि पुरानी ब्लॉग पोस्ट्स को अपडेट कैसे करें?

ब्लॉग पर न्यू पोस्ट लिखने के साथ-साथ ब्लॉग को अपडेटेड रखना भी जरूरी है। ब्लॉगिंग में सिर्फ new content writing ही ब्लॉग को maintain रखने में enough नहीं है। ब्लॉग को up-to-date रखने के लिए पुरानी पोस्ट्स को update करते रहना भी आवश्यक है।

Old Blog Post ko Update Kaise Kare

Old blog posts को अपडेट क्यों करें?

पुरानी ब्लॉग पोस्ट्स को अपडेट करने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। आइए जानते हैं उन कारणों को जिन्हें ध्यान रखते हुए आपको पुरानी ब्लॉग पोस्ट को अपडेट कर फ्रेश कंटेंट में तब्दील करना चाहिए।

  • पुरानी पोस्ट्स पर ट्रैफिक नहीं आ रहा हो।
  • पोस्ट का content outdated हो गया हो।
  • पोस्ट अच्छे से explained न हो।
  • पोस्ट अच्छे से SEO Optimized न हो।
  • Grammatical mistakes हो।
  • Post content currently relevant न हो।
  • पोस्ट का कंटेंट किसी विशेष समय के लिए important था।
  • Old blog posts में new examples add & fresh content add करने के लिए।
  • Opinions change होने के कारण।

अगर आपका कंटेंट अपडेटेड नहीं है और कोई विजिटर सर्च इंजन या रेफरल के द्वारा उस पोस्ट पर पहुंचता है तो वो विजिटर या रीडर आपकी साइट पर नहीं रूकेगा। इस तरह आप एक विजिटर को खो देंगे और साइट की बाउंस रेट भी बढ़ेगी।

इस प्रकार और भी कई ऐसे कारण हो सकते हैं जिनकी वजह से पुरानी पोस्ट को एडिट कर अपडेट करना जरूरी होता है अन्यथा उन पोस्ट्स का आपके ब्लॉग के लिए कोई महत्व नहीं रह जाता है।

टूलस जो काम आयेंगे पोस्ट को अप्डेट करते टाइम:

पुरानी ब्लॉग पोस्ट को अपडेट कर फ्रेश कंटेंट कैसे बनायें?

ब्लॉगिंग में बढ़ते कंपटीशन के कारण अपने ब्लॉग पोस्ट्स को सर्च इंजन में टॉप पोजिशन पर बनाए रखने हेतु इनका up-to-date होना जरूरी है।

ब्लॉग पर कोई न्यू पोस्ट लिख दी तो इसका मतलब यह नहीं है कि वो पोस्ट lifetime useful हो। इसी बात का ध्यान रखते हुए पुरानी ब्लॉग पोस्ट्स को नियमित तौर पर अपडेट करते रहना चाहिए ताकि वे पोस्ट्स evergreen useful बनी रहें😊।

ब्लॉग पर पुरानी पोस्ट को अपडेट करने से पहले उन पोस्ट्स को पहचानिए जिन पर ट्रैफिक कम है या नहीं है, पोस्ट outdated हो गयी है या trends में नहीं है। अन्य कोई और कारण जिसकी वजह से ब्लॉग पोस्ट generic blog post नहीं है।

आइए जानते हैं उन तरीकों के बारे में जिन्हें अपनाकर आप old blog posts को अपडेट करना शुरू कर सकते हैं।

1. Rewrite Blog Post Title

Blog post का title यूजर्स के लिए first attention होता है क्योंकि पोस्ट टाइटल ही सर्च इंजन में आपकी पोस्ट को show करता है।

कई बार आप ब्लॉग पोस्ट के टाइटल में year या number डाल देते हैं ताकि पोस्ट टाइटल उस समय के लिए specific या significant बन सकें।

उदाहरण के लिए पोस्ट टाइटल Top 10 blogging tips 2019 लेकिन नए वर्ष में इस टाइटल को relevant बनाने के लिए 2019 की जगह 2020 एड करना होगा।

साथ ही अगर आपको लगता है कि आपके पोस्ट पर ट्रैफिक नहीं आ रहा है तो आप पोस्ट टाइटल में नया कीवर्ड भी ऐड कर सकते हैं।

ब्लॉग पोस्ट का टाइटल जितना click worthy होगा, उतना ही बेहतर है।

SEO Friendly Title kaise likhe uske ware me yaha share kiya hai.

2. Update Blog Post Image

अगर आप event blogger है तो इमेज को अपडेट करना बहुत जरूरी है। ऐसा करने से यूजर्स को relevant इमेज मिल जाती है और आपकी ब्लॉग पोस्ट में न्यू इमेज भी ऐड हो जाती है।

अगर आपको लगता है कि आपके पुराने ब्लॉग पोस्ट्स में उपयोग की गई images थोड़ी पुरानी टाइप्स की है या blog post के niche को define नहीं कर रही है तो आप उन्हें एक new image के द्वारा replace कर सकते है।

आप पोस्ट के लिए free image google से या रॉयल्टी free image वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते है।

3. Use Last Updated date

पुरानी ब्लॉग पोस्ट में Publication date के स्थान पर last updated date दिखाने के लिए आपको site theme में coding edit करनी पड़ेगी।

ऐसा करने से आप जब भी अपनी पोस्ट को थोड़ा एडिट या अपडेट करेंगे तो यूजर्स को last updated date दिखेगी। साथ ही आपका कंटेंट फ्रेश लगेगा।

अधिकतर पुराने ब्लॉगर यह ट्रिक अपनाते हैं और उनकी पुरानी ब्लॉग पोस्ट्स में Last updated date या last modified date दिखती है।

अतः आप भी अपने ब्लॉग पर यह फीचर या ट्रिक उपयोग करें ताकि आपके यूजर्स को भी गर्व हो कि आप नियमित तौर पर पुरानी ब्लॉग पोस्ट को अपडेट करते हैं।

4. SEO Optimization

अगर आपके ब्लॉग पर पुरानी पोस्ट पर ट्रैफिक नहीं आता है तो आप ट्रैफिक बढ़ाने के लिए ब्लॉक पोस्ट को दोबारा से SEO Optimize कर सकते हैं।

SEO Optimization में आप पुरानी पोस्ट्स के Heading, Sub-heading, label, category, keyword density etc. में बदलाव कर SEO को एक नए सिरे से कर सकते हैं।

SEO की पूरी जानकारी आपको यहाँ मिल जाएगी।

5. Fix Broken Link

अगर आपका ब्लॉग काफी पुराना है तो इस बात की ज्यादा संभावना होगी कि पुरानी ब्लॉग पोस्ट में broken link हो। अतः किसी broken link checker tool की सहायता से इस टाइप के लिंक्स को ढूंढकर remove कर दें।

एक निश्चित समयांंतराल से ब्लॉग पर उपस्थित इस प्रकार के लेंस को चेक करते रहे और ऐसे लिंक उपलब्ध हो तो उन्हें रिमूव कर दें।

6. Add Links

जब आप अपनी पुरानी पोस्ट्स को अपडेट कर रहे हो तो इसे अधिक valuable बनाने के लिए इसमें internal तथा external link जोड़ें।

जब आप ब्लॉग पोस्ट में हाई क्वालिटी लिंक्स ऐड करते हैं तो पेज अथॉरिटी भी बढ़ती है। यह एक प्रकार से SEO का ही पार्ट है।

7. *Rewrite Blog Post Content

अगर आपको लगता है कि आपके द्वारा ब्लॉग पर लिखी गई कोई पुरानी पोस्ट useless हो चुकी है या उसमें बताई गई टिप्स अब किसी काम की नहीं है तो आपको उस पोस्ट को दोबारा से लिखना चाहिए या उस में लिखे गए अधिकतर कंटेंट को न्यू कंटेंट से रिप्लेस देना चाहिए।

उदाहरण के लिए आप जानते होंगे कि Google search console का new version आ चुका है और पुराने Google search console के अधिकतर मोड काम नहीं कर रहे है क्योंकि उन्हें new search console में नये तरीक़े से दिया गया है। अतः अगर आपके ब्लॉग पर कोई आर्टिकल लिखा गया हो जिसमें पुराने गूगल सर्च कंसोल के टिप्स एंड ट्रिक्स बताए गए हैं तो उसे एडिट कर न्यू सर्च कंसोल के बारे में बताकर अपडेट कर देना चाहिए।

8. Update Post URL

आपकी पोस्ट का जो यूआरएल है, अगर वह ऐसी फ्रेंडली नहीं है या बहुत लंबा है तो आप उसको भी जरूर एडिट करें। लेकिन यहां इस बात का भी जरूर ध्यान रखें कि जो भी आपका पुराने यूआरएल था उसको 301 रीडायरेक्ट जरूर करें अपने नए URL पर।

9. Proof Reading kare

पोस्ट में सब कुछ सही है कि नहीं, या कहीं कोई कुछ छूटा तो नहीं है वह सब चेक करते के लिए पोस्ट को अपडेट करने से पहले एक बार अच्छी तरह से तू फ्री जरूर करें।

प्रूफ रीडिंग क्या है और क्या सही तरीका है प्रूफ्रेडिंग करने का उसके बारे में बैठे बताया हुआ है। अब वहां जाकर डीजल में देख सकते हैं क्या सही तरीका है प्रूफ्रेडिंग करने का।

इस प्रकार आप पुरानी ब्लॉग पोस्ट को एडिट कर एक फ्रेश कंटेंट बना सकते हैं।

अपने ब्लॉग पर नियमित तौर पर फ्रेश कंटेंट लिखकर ब्लॉक ट्रैफिक बढ़ाना एक अच्छी strategy है लेकिन इस बात का भी ध्यान रखें कि आपके ब्लॉग पर पुरानी ब्लॉग पोस्ट भी अप-टू-डेट व ऑडियंस के लिए हेल्पफुल है।

अंत में:

उम्मीद है दोस्तों आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी जिसमें हमने जाना कि किस प्रकार आप पुराने ब्लॉग पोस्ट को एडिट कर एक न्यू फ्रेश कंटेंट के रूप में अपडेट कर सकते हैं। अगर इससे संबंधित आपके मन में कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में जरूर पूछें।

53 thoughts on “Old Blog Post ko Update Kaise Kare”

  1. Post padke help to hua hi hai. Lekin time thoda jyda laga kyu ki pure Hindi he na.
    Wese accha hi hua muje Hindi sikhne ko mila 😉

    Rohit Mewada bhaiya. Ajkal comment ka reply email par nehi mil raha hai 😥

    Reply
  2. Hello sir, mera blog blogger par hai aur mene 15 din pehle hi ek domain liya hai aur mene domain jab Se apne blog me add kiya hai mere blog ki traffic puri khatam ho gayi hai aur organic traffic to bilkul hi zero ho gayi hai, aisa kiu ho raha hai kya aap mujhe bata sakte hai.

    Reply
  3. Dear admin
    हम कैसे यह पता कर सकते है, की मेरे ब्लॉग में किस पोस्ट की कौन-कौन से कीवर्ड रैंक कर रहे है, प्लीज यदि आपके पास आंसर हो तो मुझे जरूर बताएं।

    Reply
  4. Great and valuable post to get good traffic on the blog. But if you can tell the readers how to include the updated date in the meta description, without changing the title and URL periodically, then it would be awesome.

    Reply
  5. Nice post
    sir kuch dino se apke blog visit nahi kar paya.
    Sir mene blog banaya aprooval liya magar vah unaprooved ho gaya jabki mer blog post seo par he trffic bhi acha he content bhi sahi he ek baar please analyze kare. Freetechntrick.blogspot.com. mujhe sir jawab mail kare

    Reply
    • Aap post permalink ko chhod kar sabhi tarah ki SEO optimization settings kr sakte hai I mean content ko optimize kar sakte hai jo ki ek better experience hoga aap ke liye.
      Do it right now.

      Reply
  6. Isme sb se important baat ye hai ki old post ko update krte time news posts ke links as an interlink mention krna better hota hai jis se post ranking me 200% increase hota hai

    Ye maine khud experience kiya hua hai.
    Overall ish post me sbhi points ko cover kiya gya hai

    Reply

Leave a Comment