[Apply] Online Driving Licence Banaye Step by Step Guide in Hindi

Sarathi Parivahan Sewa डिजिटल युग में बढ़ते भारत के लिए एक बेहद जरूरी सुविधा है। समय का काम नियमित रूप से चलना होता है। वही गति एक इंसान को भी पकड़नी बेहद जरूरी है ताकि वह न केवल खुद को बल्कि पूरी दुनिया को तरक्की के शिखर पर ले जा सके।

21st Century Technology की है, यह कहना गलत नहीं होगा। तेज भागती दुनिया के कदम से कदम मिलाकर चलने के लिए नई तकनीक की help लेना काफी फायदेमंद रहता है। टेक्नोलॉजी ने दुनिया को विकसित करने में काफी बड़ा और महत्वपूर्ण योगदान दिया इसी टेक्नोलॉजी ने दुनिया को Internet से मिलवाया। जिस तकनीक ने ज्यादातर कामों को बेहद ही आसान कर दिया। चाहे करनी हो online earning या करना हो work from home सभी काम इंटरनेट से आसानी से मुमकिन है।

दोस्तों इस ब्लॉग पोस्ट के जरिए आज आपको इसी इंटरनेट की मदद से Online Driving Licence बनाना सीखेंगे और कैसे इसमें Sarathi Parivahan Sewa हमारे काम आ सकता है यह जानेंगे।

[Apply] Online Driving Licence Banaye Step by Step Guide in Hindi - Website

Sarathi Parivahan Sewa kya hai?

Sarathi Parivahan Sewa एक वेबसाइट है जिसे सड़क परिवहन मंत्रिमंडल विभाग ने online Driving Licence बनवाने के लिए लॉन्च किया था। यह वेबसाइट की मदद से देश का कोई भी नागरिक (जिनकी उम्र कम से कम 16 साल हो या उससे अधिक हो) वह Driving Licence Apply कर सकते हैं।

इसके अलावा Driving Licence renew, Conductor License, Learner License के साथ साथ अपने किए हुए एप्लीकेशन का स्टेटस चेक भी कर सकते हैं।

इंटरनेट की पहुंच भारत के जब हर जगह नहीं थी तब ज्यादातर कामों के लिए दलालों की जरूरत पड़ती थी। इन्ही में से एक काम ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना भी है। ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए जिस जिले में आप रहते हैं वहां के आरटीओ और डीटीओ से कम्युनिकेट करना होता है ताकि आप लाइसेंस प्राप्त कर सके।

लेकिन दलालों के कारण Driving Licence के लिए कई लोगों को सरकारी कीमत से भी ज्यादा चुकाना पड़ता है इसी ठगी को रोकने के लिए Digital India के तहत केंद्र सरकार ने इस Sarathi Parivahan Sewa की शुरुआत करी।

Driving Licence Kya hota hai?

Driving licence सरकारी दस्तावेज है जो सरकार द्वारा दिया जाता है ताकि लोग अपने Vehicle को देश के किसी भी जगह officially लेकर जा सकें। इस दस्तावेज के बिना कोई व्यक्ति गाड़ी चलाता हुआ पाया जाता है तो कानून वह अपराध की श्रेणी में गिना जाता है। इसीलिए ड्राइविंग लाइसेंस होना बेहद जरूरी है।

लेकिन लाइसेंस बनवाने के लिए काफी समय जाता है, RTO में भारी भीड़ होने के कारण कई कई घंटे लाइन में लगे रहना पड़ता था जिस कारण लोग Driving licence बनवाने में थोड़ा ढील बरते थे। लेकिन अब ढील बरतने की जरूरत नहीं क्योंकि अब internet की मदद से कहीं से भी Driving licence apply किया जा सकता है।

Driving licence kitne Types ke hote hain?

भारत के हर नागरिक जिन्हें किसी भी जगह vehicle चलाना हो उन्हें कानून ड्राइविंग लाइसेंस लेना जरूरी है। यह कानून Motor Vehicle Act 1988 के तहत है। चाहे आपके पास two wheeler हो या 4 wheeler हो। सिर्फ साइकिल को छोड़ कर ड्राइविंग लाइसेंस होना जरूरी है। लोगों की जरूरतों के मुताबिक ड्राइविंग लाइसेंस चार तरह के होते हैं।

  • Learner Licence: यह लाइसेंस उनके लिए जरूरी है जो अभी पहली बार कार या बाइक चलाना सीख रहे हैं। इस लाइसेंस की अवधि 6 महीने तक की रहती है। इस लाइसेंस के अप्लाई करने के 30 दिन बाद Permanent Driving licence के लिए अप्लाई किया जा सकता है। गाड़ी चलाना सीखने के लिए ट्रैफिक रूल्स का पता होना जरूरी है। इस लाइसेंस धारकों को अपने कार पर लाल रंग की टेप से अंग्रेजी शब्द ‘L‘ लगा होना चाहिए।
  • Permanent Driving Licence for Private Vehicles: यह ड्राइविंग लाइसेंस उन लोगों को मिलता है जिन्होंने ड्राइविंग टेस्ट कंप्लीट कर लिया है और उनकी उम्र कम से कम 18 साल की है। इसमें मिलने वाला ड्राइविंग लाइसेंस एक तरह का स्मार्टकार्ड जैसा काम करता है जिसमें आवेदक कर्ता की पूरी बायोमेट्रिक डिटेल्स होती है। जैसे Name, Age, permanent address इतियादी।
  • Permanent Driving Licence for Commercial Vehicles: यह लाइसेंस उन लोगों के लिए जरूरी है जो वाहन को बिजनेस के लिए चलाते हैं यानी की पब्लिक ट्रांसपोर्ट कंपनी और ट्रांसपोर्ट/कोरियर कंपनी। इसमें चालक का कम से कम सांतवी पास होना जरूरी है।
  • International Driving Permit: भारतीय सरकार ने लाइसेंस देने में उन लोगों का भी ध्यान रखा है जिन्हें बाहर के देश जाकर rented vehicle या खुद की व्हीकल चलानी हो। लेकिन इस लाइसेंस के लिए चालक के पास Permanent Driving licence होना चाहिए। यह लाइसेंस एक साल तक के लिए ही वैलिडिटी रहती है एक साल के बाद renew करवाना पड़ता है।

Different Categories of Driving Licence

लाइसेंस को वाहनों के मुताबिक अलग अलग कैटेगरी में बांटा गया है। इस भिन्न भिन्न कैटेगरी के मुताबिक उम्र सीमा भी तय की गई है। बेहतर जानकारी के लिए टेबल पर साझा की गई है।

कैटेगरीलाइसेंस क्लासवाहन टाइप
निजी इस्तेमाल वाली गाड़ियांMC 50CCमोटरसाइकिल जिसमे 50 cc या इससे कम का इंजन हो।
MCWOG/FVGइसमें व्हीकल में इंजन की क्षमता कितनी भी हो सकती है, लेकिन गियर के बिना इस में मोपेड्स आते हैं।
LMV – NTनिजी वाहन जो ट्रांसपोर्ट के लिए न इस्तेमाल होते हों। जैसे निजी कार।
MC EX50CCइसमें वह मोटरसाइकिल आते हैं जिसमें इंजन की क्षमता 50cc से अधिक हो। इसमें निजी कार भी गिनी जाती है।
MC with Gear/without gearइसमें दोनो तरह की बाइक गिनी जाती है चाहे गियर के साथ हो या बिना गियर के साथ
व्यवसायिक इस्तेमाल के लिएMGVहलके सामानों के ट्रांसपोर्ट के लिए
LMVकार बाइक इतियादी जो वाहन टैक्सी के रूप में इस्तेमाल होते हैं।
HGMVइसमें ट्रक को शामिल किया जाता है जिसमे भारी सामान जाते हैं।
HPMVइसमें पब्लिक ट्रांसपोर्ट आती हैं जैसे की बस।

हर व्हीकल टाइप के लिए चालकों के लिए Motor Vehicle Act के तहत उम्र सीमा भी तय की गई हैं। जैसे की जो मोटर साइकिल गियर के साथ हो या कार हो उसमें चालक को कम से कम 18 वर्ष का होना जरूरी है।

चालक को भारत के ट्रैफिक रूल्स पता होना चाहिए और identity proof भी होना जरूरी है। लेकिन अगर बाइक बिना गियर की हो तो उम्र कम से कम 16 वर्ष की भी वैध है लेकिन इसके लिए चालक के माता पिता का अप्रूवल होना जरूरी है।

Commercial purpose के लाइसेंस के लिए उम्र अलग अलग राज्यों में अलग अलग तय की गई है। जैसे की कई राज्यों में 18 साल सीमा है तो कई राज्यों में उम्र सीमा 20 वर्ष।

Sarathi Parivahan Sewa में अप्लाई करने के लिए Important Documents

पोर्टल में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई करने से पहले Important Documents का इंतजाम जरूर कर लें ताकि बाद में दिक्कत या परेशानी न हो। Documents Upload करने के लिए फाइल साइज 200 KB से अधिक नहीं होनी चाहिए। यह जरूरी दस्तावजों में से कोई भी अपलोड किया जा सकता है। आइए अब जानते हैं जरूरी दस्तावेज कौन से हैं।

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • वोटिंग आइडेंटी कार्ड
  • बिजली बिल
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आवेदक के हस्ताक्षर
  • फॉर्म – 1 अगर लर्निंग लाइसेंस के लिए अप्लाई कर रहे हैं
  • फॉर्म – 2 अगर परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए अप्लाई कर रहे हैं।

Driving Licence Fees

Driving Licence TypesApplication Fees
Learner Licence Fee₹200
Learner Licence Renewal Fee₹200
Permanent Driving licence Fee₹200
Driving test fee₹300
Driving licence renewal fee₹200
International Driving licence Fee₹1000

Sarathi Portal mein Driving licence Apply karne ke liye steps

ड्राइविंग लाइसेंस को अप्लाई करने के लिए पोर्टल में कुछ स्टेप्स निर्धारित किए हुए हैं जो अमूमन पोर्टल पर मौजूद सभी सुविधाओं में एक जैसे हैं हालांकि कुछ कुछ स्टेप्स बदले हुए हैं। वह भी आप आगे के लेख में जान पाएंगे।

[Apply] Online Driving Licence Banaye Step by Step Guide in Hindi - Website

1) सबसे पहले सरकार द्वारा निर्धारित ऑफिशियल सारथी वेबसाइट पोर्टल पर जाना होगा, डिवाइस में वेबसाईट का Home पेज खुलेगा जिसमें सबसे पहले आपको एक ऑप्शन मिलेगा ‘Drivers/Learners Licence’ जिसके ठीक नीचे ‘More’ का बटन होगा उसको दबाएं।

[Apply] Online Driving Licence Banaye Step by Step Guide in Hindi - Website

2) ब्राउजर के नए टैब में एक पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना राज्य सिलेक्ट करना होगा। राज्य के मुताबिक ही सुविधा उपलब्ध करवाई जाती हैं।

[Apply] Online Driving Licence Banaye Step by Step Guide in Hindi - Website

4) राज्य को सिलेक्ट करने के बाद आपके सामने उन सुविधाओं की लिस्ट आ जाएगी जो Sarathi Parivahan Sewa में मौजूद हैं। उनमें से कुछ महत्वपूर्ण सुविधाएं निम्नलिखित हैं:

[Apply] Online Driving Licence Banaye Step by Step Guide in Hindi - Website
  • Apply for Learner Licence
  • Apply for Driving licence
  • Apply for DL renewal
  • Apply for Duplicate DL

5) जिस सुविधा के लिए आप अप्लाई करना चाहते हैं उसपर क्लिक करें और उसमें जरूरी सभी डिटेल्स भरें। इसमें अपने साथ जो भी डॉक्यूमेंट्स मौजूद हो उसको पोर्टल में अपलोड कर लें।

6) इस चरण में सबसे पहले अपने भरे हुए फॉर्म को सबमिट करने से पहले पूरी तरह से चेक कर लें। सबमिट होने के बाद लाइसेंस की फीस पेमेंट करनी होगी जो आप UPI, Debit card, Credit card या Internet Banking के मध्यम से कर सकते हैं।

7) Payment Verify होने के बाद आपके सामने payment receipt आ जाएगी। इसे आप अपने डिवाइस में जरूर save करलें। लैपटॉप या कंप्यूटर में सेव करने के लिए ‘विंडो का बटन और prnt scr’ एक साथ दबाएं और अगर मोबाइल से कर रहे हैं तो अपने मोबाइल के मुताबिक स्क्रीनशॉट ले लीजिए।

8) जो रिसिप्ट आपको हासिल होगी उसमे एप्लीकेशन नंबर होगा उसी की मदद से आप लाइसेंस के लिए स्लॉट बुक कर सकते हैं।

Learner Licence Apply kaise karen?

कोई भी नई चीज करने से पहले व्यक्ति को उस पर्टिकुलर चीज की knowledge होनी चाहिए। जैसे की उसमें कया नियम हैं। वाहन को कैसे चलाने हैं, गियर कैसे बदलना है, ब्रेक कैसे लगाना है इतियादी। इसीलिए वाहन चलाने से पहले उसको सीखना बेहद जरूरी है। Learner Licence Apply आप बेहद आसानी से Sarathi Parivahan Sewa के मध्यम से कर सकते हैं।

  1. वेबसाईट के मुख्य पेज पर जाएं, ‘Drivers/Learners Licence’ के नीचे लिखे More पर क्लिक करें।
  2. अब जो पेज खुलेगा उसमें अपने राज्य को सिलेक्ट करें। जैसे ही आप राज्य को सिलेक्ट करेंगे तो पेज आपको सारथी पोर्टल द्वारा प्रदान किए जाने वाले सभी सुविधाओं के नाम आ जाएंगे।
  3. इसमें से ‘Apply for Learner licence’ पर क्लिक करें। अब जो पेज खुलेगा उसमें आपको Application Submission Stages को 7 चरणो में बताया गया है।
  4. यही वही stages हैं जो आपको मेंशन किए गए हैं। उसके ठीक नीचे continue का ऑप्शन है उसपर क्लिक करें।
  5. अब नए पेज पे आवेदक कर्ता की कैटेगरी पूछी जाएगी मतलब की डिप्लोमेट हैं, फॉरेनर हैं, विकलांग हैं या जनरल कैटेगरी से बिलॉन्ग करते हैं। अपने कैटेगरी अनुसार उसमें drop down में से सिलेक्ट कर लें। साथ ही नीचे दिए गए ऑप्शन में से Applicant does not hold any Driving/Learner Licence issued in India इसी को सिलेक्ट रहने दें।
  6. इसके बाद आपको एक न्यू पेज पर फॉर्म खुल जाएगा जिसमें आपसे कुछ जरूरी डिटेल्स पूछी जाएंगी उसको अच्छे से भरें। ध्यान रखें की जिस डिटेल्स के ऊपर लाल रंग का ‘*’ वाला निशान होगा उसे जरूर भरना है क्योंकि उसके बिना आप अगले पेज पर नहीं जा पाएंगे।
  7. डिटेल्स सबमिट करने के बाद अगले पेज पर document upload करना होता है। अपलोड किए हुए दस्तावेज तय डाइमेंशन के तहत ही होना चाहिए और फोटो धुंधली नहीं होनी चाहिए।
  8. इसके बाद पेमेंट के लिए पेज ओपन होगा जिसमें आप पेमेंट UPI, Debit card, Credit card, Net Banking में से कोई भी एक ऑप्शन चुन कर पेमेंट कर सकते हैं। पेमेंट सक्सेस होने के बाद डिस्प्ले स्क्रीन पर रिसिप्ट दिखेगी उसको प्रिंट करलें या स्क्रीनशॉट लेकर सेव करलें।
  9. फिर प्राप्त हुए रिसिप्ट में एप्लीकेशन नंबर होगा उससे अपने हिसाब से लर्निंग लाइसेंस के लिए स्लॉट बुक कर पाएंगे।

Permanent Driving licence Apply kaise karen?

इस लाइसेंस को प्राप्त करने के लिए पहला स्टेप वही आपको फॉलो करना होगा जो आपने लर्नर लाइसेंस के दौरान पढ़ा यानी की पहले Sarathi E-Portal पर जाएं वहां ड्राइवर/लर्नर लाइसेंस के नीचे लिखे More पर क्लिक करें।अगले पेज पर राज्य चुनें। बाकी Permanent Driving licence Apply kaise karen? का पूरा जवाब Step by Step guide Hindi me निम्मिनलिखित हैं।

  1. राज्य चुनने के बाद अब उपलब्ध सुविधाओं में से ऑप्शन ‘Apply for Driving licence’ को चुनें।
  2. आपके सामने वेबसाइट पर कुछ स्टेप्स दिखाए जाएंगे जिससे Driving licence Apply करने में हेल्प मिल सकती है। इसके नीचे Continue के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  3. अगले पेज पर आपके पास चुनने के लिए तीन ऑप्शन होंगे जैसे की holding learner’s licence, Holding Foreign DL और Holding Defence License. ऐसा इसीलिए क्योंकि कानून के तहत चालक को तभी परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस तभी मिल पाएगा अगर उसके पास लर्निंग लाइसेंस हो या foreign Driving licence हो। ध्यान रहें की लर्निंग लाइसेंस कम से कम एक महीने पुराना होना ज़रूरी है। तभी Permanent Driving licence Apply किया जा सकता है।
  4. जो भी ऑप्शन आप चुनेंगे उसकी डिटेल्स भी जरूर भरें जैसे की लर्नर लाइसेंस का नंबर और अपनी सबमिट की हुई जन्म तारीख। इस डिटेल्स को भरने के बाद ok बटन पर क्लिक करें।
  5. इसके अगले पेज पर फॉर्म पेज खुल जाएगा जिसमें आवेदक कर्ता को डिटेल्स भरनी होगी और जरूरी दस्तावेज अपलोड करना होगा।
  6. फॉर्म भरने के बाद ड्राइविंग लाइसेंस शुल्क भरें और प्राप्त हुई रिसिप्ट को संभालकर रखें जब तक लाइसेंस बन कर तैयार नहीं हो जाता।

Online Driving licence renewal kaise karen?

वाहन चालकों के लिए ड्राइविंग लाइसेंस का होना बेहद जरूरी है लेकिन रोज की भाग दौड़ भरी जिंदगी में यह चेक करना भूल जाते हैं की कहीं Driving licence Validity period खत्म तो नहीं हो गया? और कुछ लोगों को तो पता ही नहीं होता की ड्राइविंग लाइसेंस की expiry date भी होती है।

आपको बता दें की Driving licence Validity period 20 साल या आवेदक कर्ता के 50 वर्ष के होने तक का होता है इनमें से जो भी पहले होता है उतने तक की ही expiry date मानी जाती है। लेकिन आवेदक कर्ता ने लाइसेंस कमर्शियल व्हीकल के लिए लिया है तो वैलिडिटी 3 साल तक के लिए रहती है

अब जानते हैं Online Driving licence renewal kaise kare step by step guide:

  1. सबसे पहले वही स्टेप्स को फॉलो करें जो लर्निंग लाइसेंस और ड्राइविंग लाइसेंस को अप्लाई करने के दौरान किया था।
  2. राज्य को सिलेक्ट करने के बाद उपलब्ध सुविधाओं में से तीसरा ऑप्शन “Apply for DL Renewal” पर सिलेक्ट करें।
  3. अगले पेज पर स्टेजेस फॉर एप्लीकेशन मेंशन होगा और पेज के आखिर में फॉर्म 1-A को download का ऑप्शन होगा यह फॉर्म जरूर डाउनलोड करें अगर आवेदक कर्ता की उम्र 40 वर्ष या इससे अधिक है।
  4. उसके बाद continue ऑप्शन पर क्लिक करें इसमें अब आपको ड्राइविंग लाइसेंस नंबर और जन्म तारीख डालना होगा।
  5. Get DL Details पर क्लिक करने के बाद आवेदक कर्ता की पूर्ण डिटेल सामने आ जाएगी। आपको कन्फर्म करना होगा की वह डिटेल्स सही हैं। इसके लिए Yes सिलेक्ट करें। साथ ही आरटीओ ऑफिस, पिन कोड और स्टेट डालकर प्रोसीड बटन पर क्लिक करें इससे आप वेरिफाई कर सकते हैं की वह DL Details आप ही की थी।
  6. Driving licence Renewal Form में सही से जानकारी देने के बाद पेमेंट करने के बाद आपका ड्राइविंग लाइसेंस रिन्यू होकर आ जाएगा।

दोस्तों इस तरीके से Sarathi Parivahan Sewa के मध्यम से आप Online Driving Licence आसानी से बना सकते हैं। अपने पास डॉक्यूमेंट तैयार रखें और इस दिए गए स्टेप्स से ड्राइविंग लाइसेंस अप्लाई करें और कोई भी परेशानी हो तो कृपया कॉमेंट बॉक्स में जरूर पूछें हमें आपकी मदद करने में खुशी होगी।

धन्यवाद

Share on:

मेरा नाम अजय गर्ग है, मैं अपनी वेबसाइट aslisatya.in पर हिंदी में भारत और दुनिया में मौजूद हर विषय में छुपे हुए Amazing facts को उजागर करता हूँ।

Leave a Comment

Please Read HMH Comment Policy before Comment.

5 thoughts on “[Apply] Online Driving Licence Banaye Step by Step Guide in Hindi”